Airtel के सीईओ ने इस महीने भारत में 5,000 टावरों के साथ 5G शुरू करने की प्लानिंग का खुलासा करने के बाद अब कंपनी के वाइस-चेयरमैन,अखिल गुप्ता ने एक इंटरव्यू में कहा

कि एयरटेल अपनी 5G सेवा के लिए कोई प्रीमियम नहीं लेगी, लेकिन यूजर्स को सुपरफास्ट नेटवर्क में अपग्रेड करने के लिए हाई प्राइस वाले टैरिफ प्लान के साथ रिचार्ज करना होगा।  

इससे एयरटेल का एवरेज पर यूजर बढ़ जाएगा। Q1 FY23 के अंत में Airtel का ARPU 183 रुपये था। अब उम्मीद की जा रही है।

टेलीकॉम कंपनियों ने कहा है कि नवंबर में प्रीपेड प्लान्स की कीमत में 20 से 25 फीसदी की बढ़ोतरी के बाद वे इस साल फिर से कीमतों में बढ़ोतरी करेंगी।

कंपनियां एआरपीयू को लगभग 300 से 350 रुपये तक बढ़ाने का इरादा रखती हैं। कीमतों में बढ़ोतरी के बावजूद, भारत के टैरिफ अभी भी पश्चिमी बाजारों की तुलना में बहुत कम होंगे।

कि 5G सर्विसेज लॉन्च होने के बाद ये आसानी से 200 रुपये का आंकड़ा पार कर जाएगा। एयरटेल के पास पहले से ही उद्योग में सबसे अधिक ARPU है। 

5G के आने के बाद ग्राहक ज्यादा डेटा कंज्यूम करेंगे इसके अलावा, गुप्ता जी ने कहा कि 5G के आने के बाद ग्राहक ज्यादा डेटा कंज्यूम करेंगे।

क्योंकि इंटरनेट स्पीड तेज़ होने डेटा का यूज बढेगा, इससे टेलिकॉम कंपनियों की कमाई बढ़ना तय है। गुप्ता जी के अनुसार,चूंकि 

नेटवर्क रोलआउट के लिए अतिरिक्त टावर इन्फ्रास्ट्रक्चर की आवश्यकता है। रिपोर्ट के मुताबिक Airtel 5G सबसे पहले दिल्ली, गांधीनगर, बेंगलुरु, चंडीगढ़, गुरुग्राम,

हैदराबाद, जामनगर, अहमदाबाद, चेन्नई, कोलकाता, लखनऊ, मुंबई और पुणे में रहने वाले लोगों के लिए एक्सेसिबल होगा।

दूसरे शब्दों में कहें तो यह पहले 13 शहरों में डेब्यू करेगा। इसके बाद इसे टियर-2 और टियर-3 में और भी शहरों में उपलब्ध कराया जाएगा।

ऐसे ही इंटरेस्ट है और मजेदार टेक्नोलॉजी से जुड़े हुए टिप्स एंड ट्रिक्स के लिए हमारे वेबसाइट HindMeg.net पर विजिट करते रहे।