Transaction Meaning In Hindi? |Transaction का क्या मतलब है? जानें हिंदी में

हेल्लो दोस्तों आज हम आपको Transaction Meaning In Hindi के बारे में जनीकृ देने वाले हैं, यदि आप भी Transaction का मतलब? जानना चाहते हैं तो हमारी इस पोस्ट को ठीक से पुरा पढ़ें।

इसमें आपको Transaction कितने प्रकार के होते हैं? और किसके क्या लाभ और क्या हानि है इन सभी के बारे में नीचे बताया गया है।

Transaction Meaning In Hindi

Transaction Meaning In Hindi

सरल भाषा में लेन-देन की प्रकृया को Transaction कहा जाता है। Transaction को Product और Services के आदान-प्रदान या Money Transfer, या भविष्य में वस्तुओं और सेवाओं के लेन-देन की Commitment के रूप में परिभाषित किया गया है।

एक Transaction एक मौद्रिक गतिविधि (Monetary Activity) है जिसे Accounting रिकॉर्ड में एक Entry के रूप में दर्ज किया जाता है और Financial Statements पर इसका मौद्रिक प्रभाव पड़ता है।

लेन-देन के कुछ उदाहरण निम्नलिखित हैं: किसी Business को उनकी Service या Deliver Products के लिए Payment करना।

Businesses को बेहतर और सटीक Financial Results देने के लिए विभिन्न Accounting Methods अलग-अलग Transactions रिकॉर्ड करती हैं।

छोटे Businesses और बड़े उद्यमों (Enterprises) द्वारा आमतौर पर कुछ तरीकों का पालन किया जाता है।

Transactions लेन-देन को रिकॉर्ड करने के लिए आम तौर पर अपनाई जाने वाले Methods हैं – Accrual, Cash और Revised Cash.

Transaction क्या है?

Transaction की परिभाषा के अनुसार, यह एक Seller (बेचने या देने वाले) और एक खरीदार के बीच माल, सेवाओं, या Financial Assets को पैसे के बदले में Transferred करने के लिए एक अंतिम समझौता है जिसे लेनदेन के रूप में जाना जाता है।

Transaction” की यह सरल धारणा Enterprise Accounting में उलझी हुई (Complicated) हो सकती है। एक Transaction Eventually Documented हो सकता है,  इस पर निर्भर करते हुए कि कोई Corporation Accrual Accounting या Cash Accounting का इस्तेमाल करता है।

Transaction का क्या मतलब है?

विक्रेताओं/Sellers और खरीदारों/Buyers के बीच एक Transaction काफी सरल लेनदेन है। किसी प्रोडक्ट या सेवा के बदले में, खरीदार विक्रेता को Payment करता है।

जब भी शर्तों पर सहमति होती है, सेवा या प्रोडक्ट के लिए पैसे का लेन-देन यानि कि Transaction किया जाता है, तो काम पूरा हो जाता है।

यह Financial reporting में, लेनदेन अधिक Complicated हो सकता है – निगम/Corporation आज एक Contract पर Sign कर सकते हैं जिसे बाद में बदला नहीं जाएगा।

यह भी संभव है कि Businesses के पास Revenue या देनदारियां/Liabilities हों जिनकी पहचान की गई हो लेकिन अभी तक उनका Payment नहीं किया गया हो।

Accrual Accounting के अनुसार – एक Transaction हमेशा Registered होना चाहिए जब यह हुआ हो, तीसरे पक्ष के साथ Transaction जटिलता जोड़ सकते हैं, भले ही पैसा कब प्राप्त हुआ हो या लागत का भुगतान किया गया हो।

Cash Accounting के अनुसार – जब Cash/नकद प्राप्त होता है या व्यय/Expenses का Payment किया जाता है, तो Cash Accounting System Transaction को रिकॉर्ड करती है।

नोट – इसमें एक लिखित बयान या एक समझौता समझौते की आवश्यकता हो सकती है।

Transaction कितने प्रकार के होते हैं?

पैसे के लेन-देन के आधार पर तीन प्रकार के Accounting Transaction होते हैं:

1. नकद लेनदेन (Cash Transactions),

2. गैर-नकद लेनदेन (Non-Cash Transactions) और

3. क्रेडिट लेनदेन (Credit Transactions)।

Accrual Accounting Transactions क्या है?

एक Business अपने राजस्व/Revenue और व्यय/Expenditure को रिकॉर्ड करने के लिए जिन नियमों और प्रक्रियाओं का इस्तेमाल करता है, उन्हें Accounting Methods के रूप में जाना जाता है।

Accrual Accounting राजस्व और व्यय का ट्रैक रखता है। आमतौर पर (GAP) Accepted Accounting Principles/ स्वीकृत लेखा सिद्धांत द्वारा Accrual Accounting की आवश्यकता होती है।

एक उदाहरण के लिए, अक्टूबर में, एक User को Store Credit पर प्रोडक्ट बेचने वाला Business Transaction को AR (Accounts Receivable) में एक Entry के रूप में रिकॉर्ड करता है।

Transaction को अक्टूबर के लिए आय के रूप में दर्ज किया जाता है, भले ही User प्रोडक्ट के लिए दिसंबर तक नकद में भुगतान नहीं करता है या किश्तों में (Partial Payment) में Payment करता है।

Accrual Accounting कैसे काम करती है?

Accrual Accounting में, आर्थिक घटनाओं को उस समय व्यय के साथ आय का मिलान करके स्वीकार किया जाता है जब Payment किया या प्राप्त किया गया था, इसके बजाय लेन-देन किया जाता है।

Accrual Accounting के लाभ और सीमाएँ

Accrual Accounting के लाभ
  • यह अधिक Depth Business Analysis की अनुमति देता है।
  • यह Financial Planning में Businesses की मदद करता है।
  • यह Accounting Method GAAP (आम तौर पर स्वीकृत लेखा सिद्धांत) का समर्थन करती है।
Accrual Accounting की सीमाएं
  • यह कई कमियां पैदा करता है।
  • इसका परिणाम धोखे में होता है।
  • Accounting की इस Method में, चलती लागत मुश्किल हो जाती है।

Cash Accounting Transactions क्या है?

नकद लेन-देन (Cash Accounting) तकनीक का इस्तेमाल अधिकांश छोटे बिज़निस, खासकर एकमात्र मालिकों द्वारा किया जाता है। आय तब दर्ज की जाती है जब उपभोक्ता नकद/Cash, चेक या Credit Card से भुगतान करते हैं।

जब भी पैमेंट प्राप्त होता है तो एक लेन-देन दर्ज किया जाता है जबकि पैमेंट होने पर एक व्यय (Expense) तुरंत दर्ज किया जाता है।

Cash Accounting तरीका, निश्चित रूप से, Personal Funds को संभालने का सबसे सामान्य तरीका है, और यह छोटे Enterprises के लिए प्रभावी है।

Cash Accounting कैसे काम करती है?

Cash Accounting आमतौर पर छोटी फर्मों द्वारा इस्तेमाल की जाती है क्योंकि यह बहुत आसान है, और यह एक Clear View देता है कि कंपनी के पास कितना पैसा उपलब्ध है।

दूसरी ओर, आमतौर पर Approved Accounting, व्यवसायों को Accrual Accounting (GAAP) अपनाने के लिए मजबूर करता है।

जब कोई Transaction नकद आधार पर दर्ज किया जाता है, तो लेन-देन पूरा होने पर कंपनी के खातों पर उनका विलंबित प्रभाव पड़ता है।

नतीजतन Short Term में, Cash Accounting Method की तुलना में Accrual Accounting Method कम सटीकता/Accuracy प्रदान करती है।

Cash Accounting के लाभ और सीमाएं

यदि आप Cash Account Method का इस्तेमाल करने पर विचार कर रहे हैं, तो आपको फायदे और नुकसान के बारे में पता होना चाहिए।
इस Accounting Method के लाभ और सीमाएँ नीचे दी गई हैं।

Cash Accounting के लाभ
  • छोटे Enterprises के लिए, Cash Accounting Accrued या Modified Cash Accounting पर बहुत सारे लाभ प्रदान करता है।
  • इसका इस्तेमाल और रखरखाव करना आसान है।
  • यह आपको जल्दी से गणना/Calculation करने की अनुमति देता है कि आपके पास कितनी नकदी/Cash है।
  • संभावित Tax लाभ।
Cash Accounting की सीमाएं
  • Cash Accounting के लाभों के बावजूद, इसमें कई कमियाँ हैं। Cash Accounting विधि चुनने से पहले, निम्नलिखित कुछ महत्वपूर्ण कमियां हैं।
  • यह आपकी आय और व्यय की एक सीमित तस्वीर दिखाता है।
  • सभी व्यवसायों को इस Accounting Method का इस्तेमाल करने की अनुमति नहीं है।
  • आप Cash Accounting विधि का इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं यदि आपका व्यवसाय – क्रेडिट पर उत्पादों या सेवाओं को बेचता है, IRS आवश्यकताओं की तुलना में अधिक सकल Receipts हैं, और आय के लिए इन्वेंटरी की आवश्यकता है।
  • अन्य Accounting विधियों पर स्विच करना मुश्किल है।

यह भी पढ़ें: Shout Out Meaning In Hindi Instagram?

यह भी पढ़ें: CAPTCHA Meaning In Hindi?

यह भी पढ़ें: Cached Data Meaning In Hindi?

यह भी पढ़ें: E Sign Meaning In Hindi?

यह भी पढ़ें: Credit Meaning In Hindi?

यह भी पढ़ें: Scammer Meaning In Hindi?

यह भी पढ़ें: Spam Meaning In Hindi?

यह भी पढ़ें: RAM Meaning In HIndi?

यह भी पढ़ें: Fastag Meaning In Hindi?

“अक्सर पूछे जाने वाले सवाल”

Transaction क्या है?

लेन-देन को Transaction कहा जाता है। Transaction में प्रोडक्ट, सेवाओं या धन का आदान-प्रदान (लेन-देन) या Transfer शामिल है।

तीन सबसे आम प्रकार के Transaction क्या हैं?

पैसे के लेन-देन के आधार पर तीन प्रकार के Accounting Transaction होते हैं: नकद लेनदेन (Cash Transactions), गैर-नकद लेनदेन (Non-Cash Transactions) और क्रेडिट लेनदेन (Credit Transactions)।

कौन सा Accounting Method अधिक सभ्य है?

Accrual Accounting अधिक सटीक और व्यापक रूप से स्वीकार की जाती है क्योंकि यह Corporate Performance को दर्शाती है

क्या मैं Cash और Accrual Accounting विधियों को मिला सकता हूँ?

IRS के अनुसार, आप Cash, Accrual और Special Bookkeeping विधियों के किसी भी Combination को तब तक चुन सकते हैं जब तक कि संयोजन (Combination) आपकी कमाई का सही ढंग से प्रतिनिधित्व करता है और लगातार प्रदर्शन (Present) किया जाता है।

Tax के लिए Accounting की कौन सी विधि लाभदायक है?

जब आय और व्यय दर्ज किए जाते हैं, तो दोनों के बीच का अंतर लाभ और हानि के साथ-साथ आयकर भी निर्धारित करता है। हालांकि Cash Accounting अधिक सुविधाजनक है, लेकिन Accrual Accounting तकनीक कंपनी के Financial Performance का अधिक सटीक दृष्टिकोण (Accurate Approach) प्रदान कर सकती है।

Transact Meaning In Hindi

किसी कार्य को चलाना Manage करना, काम करना या कारोबार करना Transact का मतलब होता है।

Transaction Declined Meaning In Hindi

Transaction Declined का मतलब है Transaction यानि कि लेन – देन मना कर दिया गया है/रद्द कर दिया गया है।

Bank Transaction Meaning In Hindi

Bank Transaction का मतलब बैंक द्वारा लेन – देन करना।

Transaction को हिंदी में क्या कहते हैं?

Transaction को हिंदी में आमतौर पर लेन देन कहा जाता है।

ऑनलाइन ट्रांजैक्शन क्या है?

ऑनलाइन ट्रांजैक्शन में, Information System आमतौर पर लेनदेन-उन्मुख Application की सुविधा और Manage करती है। यह ऑनलाइन Analytical Processing के उल्टी है।

निष्कर्ष

तो दोस्तों उम्मीद है आपको Transaction Meaning In Hindi? Transaction को हिंदी में क्या कहते हैं? Transaction का क्या मतलब है? इन सवालों का जवाब मिल गया होगा। यहाँ आपको हमने Transaction के प्रकार भी बताएं हैं और उनके लाभ सीमाओं की चर्चा भी की है।

यदि आपका अभी भी इससे जुड़ा कोई सवाल है तो वह आप हमसे नीचे Comment करके पूछ सकते हैं। और इस पोस्ट को दूसरों के साथ Share करके हमारा समर्थन कर सकते हैं।

धन्यवाद

Hello मेरा नाम Areeba Khan है मैं HindiMeg.net की सदस्य हूँ, मुझे Technology में बहुत रुचि है और मैं हर दिन कुछ नया सीखती हूँ और अपने दर्शकों को सिखाती भी हूँ। उम्मीद है आपको हमारी सभी पोस्ट से अच्छी जानकारी प्राप्त होती होगी। हमारी पोस्ट को शेयर करके हमारा सहयोग दें, ताकि हम आगे भी आपके लिए ऐसी नई-नई अच्छी और रोचक जानकारीयाँ लाते रहें।

Leave a Comment