Fastag Kya Hai | Fastag Meaning In Hindi

हैलो दोस्तों स्वागत है आपका हमारी नई पोस्ट में जिसमें हम “Fastag क्या है?” Fastag kya hai | Fastag Meaning In Hindi इन हिंदी के बारे में बात करने वाले हैं, हम इस पोस्ट में आपको fastag full form के बारे में बताएंगे और Fast Tag Kaise Banaye ये भी सिखाएंगे।

साथ में आपको ये भी बताएंगे कि Paytm Fastag Recharge Kaise Kare। तो इन सभी को जानने के लिए हमारे इस पोस्ट को पूरा पढ़ें। इस पोस्ट में आपको fastag से सभी जानकारी प्राप्त होगी जानने के लिए आगे पढ़ते रहें,

Table of Contents

Fastag Kya Hai | Fastag Meaning In Hindi

Fastag Kya Hai | Fastag Meaning In Hindi

यहाँ हम आपको fastag full form की जानकारी दे रहे हैं,

indian Economy का चेहरा तेजी से और रोमांचक बदलावों के दौर से गुजर रहा है। डिजिटल परिवर्तन के आने के साथ, हमारा जीवन अधिक सुविधाजनक और कुशल हो गया है।

जैसे जब लंबी कतारों में खड़ा होना एक कर लगाने वाला काम था? या जब आपको बस कुछ चीज़ें खरीदने के लिए एक दुकान से दूसरे स्टोर जाना पढ़ता था।

लेकिन अब सब कुछ digitilized हो गया है? और Digitization ने यह सब कुछ बहुत आसान कर दिया है, जिससे रोजमर्रा के काम आसान, त्वरित और सुविधाजनक हो गए हैं। और यह Progress अब आपके घर से सड़कों पर ले जा रही है।

जैसे की fastag आईये जानते हैं, Fastag क्या है?

Fastag क्या है? (Fastag Kya Hai?)

Fastag भारत में एक इलेक्ट्रॉनिक टोल कालेक्शन सिस्टम (Electronic Toll Collection System) है, जो indian National Highway Authority द्वारा Operated है।

यह सीधे Prepaid या Saving Account से या सीधे टोल मालिक से टोल Pay करने के लिए रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (Rfid) technology को नियोजित करता है।

यह वाहन की विंडस्क्रीन पर चिपका होता है और लेन-देन के लिए बिना रुके टोल प्लाजा के माध्यम से ड्राइव करने में सक्षम बनाता है। इस टैग को Official Tag Issuer या Participating Banks से खरीदा जा सकता है और यदि यह Prepaid Account से जुड़ा हुआ है, तो रिचार्जिंग या टॉप-अप आवश्यकता के अनुसार कराया जा सकता है।

इसकी न्यूनतम रिचार्ज राशि ₹100 है और इसे ऑनलाइन किया जा सकता है। NHAI के अनुसार, Fastag की Unlimited Validity है। Fastag के इस्तेमाल को बढ़ावा देने के लिए 7.5% कैशबैक ऑफर भी दिए जाते हैं और इसके लिए कुछ टोल प्लाजा पर Dedicated लेन बनाई गई है।

Fastag कब से लागू हुआ भारत में?

जनवरी 2019 में, State-Run Oil Marketing कंपनियों IOC, BPCL और HPCL ने पेट्रोल पंपों पर खरीदारी करने के लिए FASTag के उपयोग को सक्षम करने के लिए MoU पर हस्ताक्षर किए थे।

सितंबर 2019 तक, FASTag लेन 500 से अधिक राष्ट्रीय और राज्य राजमार्गों पर उपलब्ध हैं और 54.6 लाख (5.46 मिलियन) से अधिक कारें FASTag के साथ सक्षम हैं।15 फरवरी 2021 से, FASTag को सभी वाहनों के लिए अनिवार्य किया गया और इसे पूरे भारत में लागू कर दिया गया।।

परिवर्तनों को ध्यान में रखते हुए, देश भर के national highways पर लगभग 615 टोल प्लाजा पर FASTag तकनीक को लागू किया गया है।

सरकार एक कैशलेस मॉडल को लागू करने की इच्छुक है जिसमें 100 प्रतिशत टोल फास्टैग के माध्यम से colloct किया जाता है।

इस उद्देश्य को आगे बढ़ाने के लिए ही, 16 फरवरी, 2021 से सभी वाहनों (vehicles) के लिए FASTag अनिवार्य (compulsory) कर दिया है  जिसके बिना आपको दोगुना amount pay करना होगा।

FASTag किस तरह काम करता है?

FASTag को गाड़ियों की विंडस्क्रीन पर चिपकाया जाता है और यह prepaid account से जुड़ा होता है। टोल payment RFID के माध्यम से करा जाता है, क्योंकि हर एक वाहन टोल गेट से होकर जाता है, जिसका मतलब है कि आपको अपनी यात्रा के दौरान टोल प्लाजा पर रुकने की आवश्यकता नहीं है।

प्रीपेड Fastag खाते से लेनदेन के लिए Debit किया जाएगा जिससे Payment आसान हो जाएगा।

उदाहरण के लिए, आप इलेक्ट्रॉनिक टोल भुगतान के लिए अपने HDFC बैंक बचत खाते या चालू खाते को FASTag से भी लिंक कर सकते हैं।

इसके लिए, आपको पहले अपने वाहन के लिए एक FASTag Profile प्राप्त करने की आवश्यकता है, जिसके लिए आप किसी भी बैंक के  FASTag पोर्टल पर Log in कर सकते हैं और Debit/Credit Card या Netbanking का इस्तेमाल करके Recharge के माध्यम से Pay कर सकते हैं।

FASTag के फ़ायदे

एक बार जब आपका Fastag Account चालू हो जाता है, तो जब भी आपका वाहन Fastag सक्षम टोल प्लाजा से गुजरता है, तो आपके खाते से उचित टोल राशि अपने आप कट जाएगी।

सरकार ने Indian national Highways authority (NHAI) को National Highway नेटवर्क पर सभी टोल लेन को Fastag लेन में बदलने का निर्देश दिया था। इसलिए, अब FASTag Indian Highways पर एक universal facility है।

आइए जानते हैं Fastag के क्या फायदे हैं:

  • Fastag का इस्तेमाल करके सभी राष्ट्रीय टोल भुगतानों पर आपको 2.5% Cash Back प्राप्त होता है।
  • आपको टोल प्लाजा के पास जाते समय धीमा करने और फिर भुगतान के रास्ते पर जाने और रुकने के कठिन अभ्यास से गुजरने की ज़रूरत नहीं है। इससे हर बार टोल प्लाजा से गुजरने पर आपका Patrol और समय बचेगा। अधिक macro level पर, यह टोल प्लाजा को कम करने और ट्रैफिक जाम को कम करने में मदद कर सकता है।
  • यदि आप देश भर में लंबी ड्राइव करते हैं, तो आपको बहुत सारे टोल प्लाजा मिल जाएंगे। दिल्ली और मुंबई के बीच एक कार ड्राइव में लगभग 21 टोल गेट हैं, जहाँ आप 1,400 रु. से अधिक खर्च कर सकते हैं। Fastag होने से आपको पूरी तरह से परेशानी मुक्त ड्राइविंग का अनुभव मिल सकता है, क्योंकि आपका टैग आपके Tol Payment Duties का ख्याल रखता है। इसका मतलब यह भी है कि आपको टोल भुगतान के लिए Cash या Change करने की ज़रूरत नहीं है।
  • Fastag के साथ, अपने टोल खर्चों पर नज़र रखना आसान हो जाता है। Fastag customers को हर बार लेनदेन के लिए टैग खाते का इस्तेमाल करने पर उनके registered mobile numbers और ईमेल पते पर SMS और Email अलर्ट प्राप्त होते हैं। इसके अलावा, Fastag Users के लिए एक dedicated web portal है, जिसके माध्यम से वे अपने टैग Account Details तक पहुंच सकते हैं।
  • Fastag होने से emergency Fastag  सड़क सहायता  और accidental death cover जैसे extra लाभ भी मिलते हैं। ये सुविधाएं उन fleet operators के लिए बहुत काम की हो सकती हैं जिनके पास हाईवे पर चलने वाले कई ड्राइवर और गाड़ियाँ हैं।
  • Fastag पर्यावरण के लिए भी अच्छा है क्योंकि यह कागजी कार्रवाई को कम करता है और Patrol/ Diesel बचाता है।
  • आप अपने मौजूदा Monthly और Local Pass को आसानी से Fastag वाले में बदल सकते हैं। कॉरपोरेट और फ्लीट मालिक Modification के लिए ऑनलाइन Apply कर सकते हैं और Modification के लिए समय और Manual Efforts दोनों की बचत कर सकते हैं।

Fastag Kaise Banaye?

Fastag को आप ऑनलाइन शॉपिंग Platform या POS बूथ से खरीदते सकते हैं, तो आप बिना किसी भी सहायता के कुछ नियमो का पालन करके tag चालू कर सकते हैं।

बस वाहन मालिक को Play Store से fast tag App Download करना होगा। फिर उसमें अपनी पूरी Detail add करना होगी और उस App को अपने account से जोड़ना आपके लिएबहुत ज़रूरी है।

जब आप Register क् हो जाएंगे तो आपके Registered Phone number पर एक verification massage आएगा।

ऐप पर मौजूद Dashboard से आप पूरी तरह से अपने card को start कर सकते हैं और साथ ही अपने कार्ड में amount को भी जोड़ सकते हैं।

बैंक द्वारा फ़ास्ट टैग कार्ड कैसे लें?

बैंक द्वारा फ़ास्ट टैग कार्ड लेने के लिए सरकार द्वारा तय किये गए 22 बैंकों की लिस्ट में से किसी एक बैंक में आपका खाता होना ज़रूरी है तभी आप फास्ट टैग कार्ड ले सकते हैं।

फ़ास्ट टैग कार्ड लेने के लिए गाड़ी के मालिक को apply करते समय सभी Documents को लेकर अपने बैंक में जाना होगा जिस Bank में गाड़ी के मालिक का Account पहले से मौजूद हो। Bank Agent आवेदक के account के साथ Fastag को जोड़ने के लिए ज़रूरी कदम उठा सकते हैं।

इसको लगवाने के लिए आप लगभग सभी टोल प्लाजा या कुछ Banks जैसे :- SBI, HDFC और ICICI के अलावा दूसरी बैंकों में भी contact कर सकते हैं. इसके अलावा यदि आप चाहे तो , paytm ,amazon , Indian oil corporation, indian patrol pump आदि जगहों पर भी इसे खरीद सकते हैं।

इसके लिए कुछ banks इसे Online Apply करके इसे जारी करवाने का अवसर भी प्रदान कर रहे हैं। सभी जरूरी formalities को चेक करने के बाद costumers को फास्ट टैग का account number दिया जाता है।

FASTag क्यों ज़रूरी है?

Fastag का सबसे बढ़ा फ़ायदा यह है कि यदि आप Fastag के बिना Fastag लेन में प्रवेश करते हैं, तो आपको टोल राशि का दोगुना भुगतान करना होगा।

सरकार ने आपके वाहन के लिए थर्ड पार्टी बीमा प्राप्त करने के लिए Fastag को भी अनिवार्य कर दिया है। इसकी popularity को बढ़ावा देने के लिए, सरकार FASTag को एक बहु-उपयोगिता Payment Device में बदलना चाहती है।

लाभों को देखते हुए और सरकार इसे कैसे प्रमुखता में ला रही है, इलेक्ट्रॉनिक टोल भुगतान और FASTag का विकल्प आसानी से एक सामाजिक मानदंड या रिवाज बनने की राह पर है। 

जैसा कि एक बार जब कोई गतिविधि सामाजिक मानदंडों का हिस्सा बन जाती है, तो लोग इसके लाभों से परे देखते हैं। जैसे कतार में चलना या “No Smoking” साईन का सम्मान करना, नेशनल हाईवे पर जाने से पहले एक लोडेड Fastag खाता होना आवश्यक है।

तो, अपना Fastag खाता आज ही प्राप्त करें और अपने कई लाभों का आनंद लेने के लिए।

“अक्सर पूछे जाने वाले सवाल”

Fastag क्या है?

Fastag को गाड़ियों की विंडस्क्रींन पर चिपकाया जाता है जिस की मदद से हाईवे पर मौजूद टोल पर payment हो जाती है और driver को गाड़ी रोक कर टोल Payment देने की ज़रूरत नहीं होती है। fastag की मदद से वो automatic हो जाती है।

क्या एक fastag 2 कारों पर use कर सकते है हमारा fastag कोई चुरा के दूसरी कार पे लगा ले तो?

नहीं, आप एक fastag को दो कारों पर इस्तेमाल नहीं कर सकते क्योंकि हर एक गाड़ी के लिए Kyc document जमा करने के बाद एक fastag दिया जाता है।

अगर हम बाहर से fastag चिपकाया है तोह फिर क्या करे?

चिंता की कोई बात नहीं है बस आपका fastag पूरा और एक दम clear दिखना चाहिए।

क्या एक कार के लिए निर्गत fastag दूसरी कार हेतु इस्तेमाल किया जा सकता है?

जी नहीं, ऐसा नहीं करा जा सकता है, क्योंकि हर गाड़ी के लिए एक अलग fastag बना होता है। और kyc करा होता है।

मेरा fastag Sticker फट गया है क्या करूँ?

आपने जहाँ से भी fastag लिया था उन्हे contact करें और अपनी यह समस्या बताएं फिर वह आपको शि कदम का उठाना है ठीक से बाता देंगे।

क्या एक ही वाहन के लिए 2 ऑपरेटर को fastag लिए जा सकते हैं?

नहीं, fastag हर एक गाड़ी के लिए kyc करके दिया जाता है।

क्या मोटरसाइकिल को भी fastag की आवश्यकता है मोटरसाइकिल सवार को इसके क्या फायदे है?

नहीं यह केवल 4 पहिया गाड़ियों पर होता है। जैसे कि कार, बस, ट्रक।

क्या Fastag अनिवार्य है?

टोल नाके से गुजरने के लिए आपके पास Fastag होना अनिवार्य है।

निष्कर्ष

इस पोस्ट में हमने आपको Fast tag kya hai | Fast tag meaning in hindi और fast tag kaise banaye के बारे में बताया है और इस ही पोस्ट में हमने आपको fastag full form और paytm fastag recharge kaise kare ये भी बताया है।

उम्मीद है, आपको हमारे द्वारा बताई गई जानकारी पसंद आई होगी, हमारी इस पोस्ट को आगे share करके हमारा समर्थन करें। क्योंकि हम आपके ऐसे ही नई नई जानकारी लाते रहते हैं।

Hello मेरा नाम Areeba Khan है मैं HindiMeg.net की सदस्य हूँ, मुझे Technology में बहुत रुचि है और मैं हर दिन कुछ नया सीखती हूँ और अपने दर्शकों को सिखाती भी हूँ। उम्मीद है आपको हमारी सभी पोस्ट से अच्छी जानकारी प्राप्त होती होगी। हमारी पोस्ट को शेयर करके हमारा सहयोग दें, ताकि हम आगे भी आपके लिए ऐसी नई-नई अच्छी और रोचक जानकारीयाँ लाते रहें।

2 thoughts on “Fastag Kya Hai | Fastag Meaning In Hindi”

Leave a Comment